काले जादू की पहचान- यदि किसी शत्रु ने या आपके किसी पार्टनर ने आपके ऊपर या आपके घर या व्यापार के ऊपर जलन वश काला जादू या तांत्रिक क्रिया कर दिया है | और आप अत्याधिक कष्ट में है तो आप इस प्रचंड शक्तिशाली प्रयोग को करके काला जादू या तांत्रिक क्रिया को समाप्त कर सकते है | काला जादू से प्रभावी व्यक्ति के मित्र भी दुश्मन की भाति व्यवहार करते है | दिया हुआ क़र्ज़ वापिस नहीं मिलता है | बार बार अपमानित होना पड़ता है | शेयर बाज़ार , जुआ , सट्टा, लाटरी , वेश्या वृत्ति में धन खर्च हो जाता है |घर में किसी भी शुभ कार्य से पहले कलेश हो जाता है | घर में देवता का वाश नहीं रहता है | कैसे करे काला जादू यहा क्लिक करे 

काला जादू का पहचान :

  • घर में या दूकान में बरकत रूक जाना |
  • घर में बिना वजह परिवार के सदस्यों के बीच मार पिट या गाली गलौज |
  • घर के सदस्यों या घर के पालतू जानवरों की अकस्मात् ही मृत्यु |
  • घर में लगे तुलसी या अनु पौधे का सुख जाना |
  • घर में चोरी होना या आग का लगना |
  • घर में काली बिल्ली का आना और रोना तथा शौच कर देना |
  • शरीर से पसीने की बदबू आना |
  • आँखों से कम दिखाई देना |
  • असमय ही बाल का सफ़ेद होना |
  • शरीरपर दाने |
  • नौकरी छूट जाना या निलंबित ही जाना |
  • दूकान या व्यापार के कर्मचारी का अचानक ही नौकरी छोड़ देना |
  • वेवजह के मुक़दमे में फस जाना |
  • जेल जाने की नौबत आना |
  • संतान कहना ना माने |
  • तलाक़ की नौबत |
  • चरम रोग या पीलिया |
  • मधुमेह , किडनी , लीवर , दिल , की बिमारी होना |
  • रात को नीद ना आना |
  • अचानक ही इत्र या की महक या बदबू का आना |
  • घर में लगा नल सुख जाना |
  • दूकान में या ऑफिस में इनकम टैक्स की छापेमारी |

काला जादू निवारण  के लिए सामग्री :

सिद्ध महाकाली यन्त्र , महाकाली चित्र , मंत्र सिद्ध पारद  की माला , जल पात्र , तेल का दीपक , दूध की मिठाई , काला सिन्दूर , हनुमान सिन्दूर , धुप , लकड़ी का पाटा , काले रंग का वस्त्र , थाली , इत्र , नारियल , कनेर के पुष्प , अगरबत्ती इत्यादि |

माला – काली हकीक माला

आसन – काला उनी कम्बल का आसन

वस्त्र – काले रंग की धोती

दिन – मंगलवार

दिशा साउथ

समय –रात्री दस बजे के बाद

जाप संख्या – सवा लाख

अवधि – एक सौ पच्चीस दिन

मंत्र :

क्रीं क्रीं क्रीं ह्रीं ह्रीं  ह्रीं हूँ हूँ हूँ दचिने कालिके क्लीं क्लीं  क्लीं क्रीं क्रीं क्रीं हूँ स्वाहा |

कला जादू की प्रयोग विधि :- मंगलवार को रात्री दस बजे स्नान के बाद काले रंग की धोती को पहन कर काले उनी  कम्बल का आसन पर बैठ जाए | लकड़ी के पाते पर काले रंग का वस्त्र बिच्चा कर महाकाली का चित्र स्थापित करे | फिर एक थाली में हनुमान सिन्दूर से “ क्रीं “ अंकित करके उस पर सिद्ध महाकाली यन्त्र को स्थापित करे | महाकाली यन्त्र का पूजन करे  और उसके ऊपर पारद की माला को स्थापित कर दे | यन्त्र पर इत्र अर्पित करे , लाल कनेर पुष्प अर्पित करे , धुप अगरबत्ती जलावे , तेल का दीपक जलावे , अब यन्त्र को काला सिन्दूर अर्पित कर दे | अंत में एक जता वाला नारियल फोड़कर बलि दे | अब काली हकिक की माला से मंत्र का जाप करे | पूजा के दौरान सात्विक रहे , और ब्रह्मचर्य का पालन करे | प्रयोग की समाप्ति पर सिद्ध माला को अपने गले में धारण करे | बाकी सामग्री को काले कपडे समेत बाँध कर शमशान में फेंक दे | वशीकरण और काला जादू के लिए यहाँ क्लिक करे 

अगले पेज पे जाने के लिए यहाँ क्लिक करे 

कला जादू से वशीकरण 

कला जादू उपाय 

कैसे करे कला जादू 

दिवाली पे करे कला जादू 

कला जादू दिवाली में  

Please follow and like us: