दुश्मन के लिए मारण के कुछ सिद्ध टोटको के बारे में बताया गया है | टोटके मंगलवार या शनिवार को नाचते हुए मोर का एक पंख  का उपरी हिस्सा यानी की चाँद वाला भाग लेकर उसे गंगा जल से पवित्र कर लेने के बाद हनुमान मंदिर जाकर हनुमान जी के मस्तक से सिन्दूर लेकर मोर पंख पर दुश्मन का नाम लिख कर घर के मंदिर में रख दे | और अपने ईस्ट देव से शत्रु को समाप्त करने की प्रार्थना करते रहे | रात भर मोर के पंख को मंदिर में ही रहने दे | और दुसरे दिन प्रातः काल बिना किसी को बोले हुए मोरे पंख को लेजाकर बहते हुए जल में प्रवाहित कर दे |  आपका शत्रु से जल्द ही पीछा छूट जाएगा |

अपने  ईस्ट देव से शत्रु को मारण के टोटके को सफल करने की बिनती करते हुए एक सफ़ेद कागज़ पर काजल से शत्रु का नाम लिखकर उसे चार बार  इस तरह से मोड की उस  कागज़  में लिखा हुआ अंदर ही छिप जाए | अब कागज़ के नीचे दो फूल वाला लौंग तथा कागज़ के ऊपर भी दो फूल वाला लौंग रख कर उस पर काला धागा लपेट दे | धागे को  लपेटते समय शत्रु के समाप्त होने की प्रार्थना करते रहे | अब एक मिटटी का दीपक लेकर उसमे कपूर को जला कर उस पर कागज़ को  रखकर पूरी तरह से जला दे |  कागज़ को जलाते समय शत्रु के समाप्ति का प्रार्थना करते रहे |

Please follow and like us: